मुख्य पटल शिक्षक समूह कुणाल मजुमदार

कुणाल मजुमदार

एडजंक्ट प्रोफेसर

कुणाल मजूमदार एक पत्रकार होने के साथ, एक मीडिया शोधकर्ता और प्रेस की स्वतंत्रता, पत्रकार सुरक्षा, मिसइनफार्मेशन, डिजिटल अधिकार और मीडिया कैप्चर के क्षेत्रों में रुचि रखने वाले शिक्षक हैं।

विगत 13 वर्षों में उन्होंने एक पत्रकार के रूप में कार्य करते हुए तहलका, इंडियन एक्सप्रेस समूह, राजस्थान पत्रिका समूह और ज़ी मीडिया कॉर्पोरेशन जैसे प्रमुख समाचार संस्थानों में जुड़े रहे हैं। कुणाल राजस्थान पत्रिका समूह द्वारा स्थापित समाचार वैबसाइट कैच न्यूज के संस्थापक संपादकों में से एक थे और इंडियन एक्सप्रेस समूह के लिए समाचार वैबसाइट इनयूथ के संस्थापक मुख्य संपादक थे।

एक पत्रकार के रूप में, कुणाल ने राजनीति से लेकर व्यापार, विदेशी मामलों, मानवाधिकारों और संस्कृति तक कई विषयों पर समाचार संकलन किया है। उन्होंने भारत के अलावा पाकिस्तान, ईरान और बांग्लादेश से भी रिपोर्टिंग एवं समाचार संकलन किया है।

वर्तमान में, कुणाल "कमेटी टू प्रोटेक्ट जर्नलिस्ट्स" के सलाहकार के रूप में कार्यरत हैं जो भारत में पत्रकार सुरक्षा की एक अंतरराष्ट्रीय गैर-लाभकारी संस्था है और स्वतंत्रता के उल्लंघन का दस्तावेजीकरण और शोध करती है।

कुणाल इंपल्स मॉडल प्रेस लैब, शिलांग के सलाहकार भी हैं जो मानव तस्करी पर समाचार संकलन करने वाले पत्रकारों का समर्थन करता है। वे जन संचार अनुसंधान केंद्र, जामिया मिलिया इस्लामिया, नई दिल्ली में एक अतिथि प्रवक्ता हैं ।

कुणाल ने जामिया मिलिया इस्लामिया, नई दिल्ली से अंग्रेजी साहित्य, इतिहास और राजनीति जैसे विषयों में स्नातक (ऑनर्स) और अभिसरण पत्रकारिता में स्नातकोत्तर किया है। इसके अलावा वे साइंस - पीओ , पेरिस में एक्सचेंज - छात्र भी थे।

कुणाल मनोहर प्रकाशन द्वारा मुद्रित पुस्तक "माओवाद से अधिक : दक्षिण एशिया में राजनीति, नीतियां और विद्रोह (2012)" के सह-लेखक भी हैं। वर्ष 2021 में, कुणाल ने पेन्सिलवेनिया विश्वविद्यालय के संचार के लिए एनेनबर्ग स्कूल में "सार्वजनिक विमर्श, मंच और विनियम" पर एक शोध पत्र भी प्रस्तुत किया है ।

कुणाल ने लैंगिक संवेदनशीलता पर कार्य करने के लिए यूएनएफपीए-लाडली पुरस्कार और ग्रामीण विकास के स्टेट्समैन पुरस्कार प्राप्त किया है। उन्हें वर्ष 2008 में विदेशी संवाददाता कार्यक्रम (FCP), हेलसिंकी और 2021 में यूरोपीय संघ आगंतुक कार्यक्रम (EUVP) में भारत का प्रतिनिधित्व करने के लिए नामित किया गया था।

about image